नशीले पदार्थों से मुक्ति पाने के लिए कुछ आसन से उपाय ,Nhile Pdarthon Se Mukti Pane Ke Liye Kuch Asan Se Upay |

Nhile Pdarthon Se Mukti Pane Ke Liye Kuch Asan Se Upay
Nhile Pdarthon Se Mukti Pane Ke Liye Kuch Asan Se Upay
नशा दूर करने का तरीका :- आज हमारे समाज की युवा पीढ़ी जिसके हाथों में हमारे देश की उन्नति होनी चाहिए | उनके हाथों में आज नशे से युक्त शराब की बोतलें है | यह हमारे लिए बहुत ही दुर्भाग्य की बात है | आज के समय में शराब को तो अपने जीवन का हिस्सा मनाते है | जो मनुष्य आज अपने पैरों पर अच्छी तरह से खड़े भी नही है | वो लोग भी शराब और ना जाने और कितनी नशीले पदार्थों का सेवन करते है | जैसे :- ड्रग्स , चिलम , कोकीन हशीन आदि | इन नशीले पदार्थों का हमारे देश में इतना अधिक विकास हुआ है कि बहुत से लोगों के शरीर में यह एक बीमारी की तरह घुस गई है | आजकल जो भी पार्टी होती है | उसमे शराब का होना तो एक आम बात हो गई है | नशा हमारे देश के दुर्भाग्य से पिछले लगभग छ : से 10 सालों में इतनी बुरी तरह से बढती जा रही है | कुछ लोग अपनी मर्जी से नशा करते है | कुछ अपने शौक से नशा करते है | जो अपने आप को नशे की आग में झोक देते है | परन्तु कुछ लोग कुसंगति में रहने के कारण नशे के आदि हो जाते है | आजकल कोलेज जाने वाले ये रोग हमारी युवा पीढ़ी को इस प्रकार से लग गई कि अच्छे से अच्छे घर के बच्चे भी बर्बादी की कगार पर पंहुच गये है | इस लोगो के नशे की लत बारे में मालूम होता है ,तो उस समय तक उनका बच्चा पूरी तरह से नशे के आदि हो  जाते है | नशे के आदि लोगों के बारे में एक बात और सामने आई है कि जो लोग नशे का सेवन करते है | वो अपनी इस आदत को पूरा करने के लिए चोरी , डकैती आदि करने लगते है | कोलेज की लड़कियां भी अपने आप को बहुत ही सुंदर और स्मार्ट समझती है | आप कोलेज में जाकर देखें कि कुछ लडकियाँ भी नशे जैसी बुरी लत का शिकार हो गई है | इसलिए हमारा एक ही लक्ष्य होना चाहिए | की अपने देश को नशे से मुक्त करें | इसके लिए सबसे पहले अपने आप को बदलें | यदि आप नशे का सेवन करते है ,तो अपनी इस मुहिम को लेकर अपने आप को बदलें | इसके बाद समाज में हो रही इन बुराईयों को दूर करें | नशे के आदि लोग मानसिक रूप से पंगु हो जाते है |
Nsha Krne Vale Pdarth Ke Naam
Nsha Krne Vale Pdarth Ke Naam
 
यदि दुनिया के हर परेंट्स को जल्द से जल्द यह मालूम हो जाये कि उनका बच्चा नशा करता है | तो वे शायद अपने बच्चे को इस बुरी लत से बाहर निकाल सकते है | लेकिन हमारा दुर्गाभ्य है कि किसी भी पेरेंट्स को को यह बात मालूम ही नही होती | उनको यह मालूम ही नही होता है कि उनका बच्चा माता – पिता को जल्दी ही इस बारे में मालूम होता है तो उन्हें तुरंत नशा मुक्ति केंद्र ले जाएँ | यह नशे की आदत को छुड़ाने के लिए सबसे अच्छा और आसन तरीका है | जो लोग शराब छोड़ना चाहते है और नही छोड़ पाते तो उन्हें कोशिश करते रहना चाहिए | और नशा मुक्ति केंद्र में जाकर अपना इस बीमारी अक इलाज करें |
Nsha Krne Vale Pdarth Ke Naam
Nsha Krne Vale Pdarth Ke Naam
शराब का सेवन करने के बाद धुम्रपान बिल्कुल भी ना करें | यह बहुत ही खतरनाक हो सकता है| इसका सेवन करने से मुंह का कैंसर और महिलाओं को स्तन का कैंसर आदि रोग हो सकते है | इसके आलावा ऐसी बुरी आदत के कारण व्यक्ति मानसिक रोगी बन जाता है | इसके छुड़ाने के लिए मानसिक बीमारी जैसे इलाज की आवश्यकता होती है | कई बात लोग चिंता के कारण भी या घबराहट के कारण धुम्रपान का सहारा लेते है | जब लोगों को अपने शरीर के अंदर गर्मी लेन की इच्छा होती है , तो लोग शराब  और धुम्रपान का उपयोग करते है | परन्तु आप इनका इलाज एक आयुर्वेदिक पद्धति से कर सकते है | हम इसके लिए लगभग 18 जडीबुटी की एक औषधी तैयार करेंगे | यह दवा पूरी तरह से सुरक्षित होगी | जिसका मानव के शरीर पर कोई बुरा प्रभाव नही होगा | इस औषधी को मानव के शरीर के वजन और स्वास्थ्य के अनुसार बनाया जायेगा | इस औषधी के प्रयोग से आप सभी नशीले पदार्थों से मुक्ति पा सकते है | जैसे :- शराब , तम्बाकू , गुटखा आदि |
गुलबनफशा
गुलबनफशा
विभिन्न जड़ी – बूटियों से किस तरह से औषधी तैयार करनी है | और इसके लिए क्या सामग्री , कितनी मात्रा में लेना है | इस बात जानकारी हम एक छोटे से लेख के माध्यम से आपको दे रहे है |
1.निशोध :- 4 ग्राम
2.विदारीकन्द
3.गिलोय   :- 4 ग्राम
4.गुलबनफशा  :- 2 ग्राम
5. नागसेर :- 3 ग्राम
6. कुटकी :- 2 ग्राम
KAALMEGH KA POUDHA
KAALMEGH KA POUDHA 
7.कालमेघ  :- 1 ग्राम
8,भृंगराज   :- 6 ग्राम
9. कसनी  :- 6 ग्राम
10. ब्राह्मी :- ग्राम
11.   आमला   :- 11 ग्राम
12. भुईआमला :- 4 ग्राम
13. काली हरर  :- 11 ग्राम
14. लौंग   :- 1 ग्राम
15, अर्जुन  :- 6 ग्राम

16.नीम   “=11 ग्राम
17. पुनर्नवा :- 11 ग्राम
18. मेशक्श्रींगी आदि |
औषधी बनाने की विधि :- उपरोक्त सभी जड़ीबूटियों को एक साथ मिलाकर पीसकर बारीक़ कर लें | इस तरह से तैयर मिश्रण की एक चम्मच की मात्रा में रोगी को खाने में मिलाकर दें | इस औषधी का सेवन खाने में या पानी के साथ लेकर खा सकते है | जैसे – जैसे शराब की लत कम होती जाएगी | वैसे वैसे इस औषधी की मात्रा भी कम करते जाएँ | इस दवा का प्रभाव जल्द ही दिखने लगता है | लगभग 2 से 3 महीने में नशे की लत बिल्कुल खत्म हो जाती है | यदि आप दवा की मात्रा कम करके देते है या दो या तेन दिन के समय अन्तराल पर देते है | तो इस दवा को अपना प्रभाव दिखने में लगभग 6 महीने तक लग जाते है | यह औषधी वही है | जिनको टी वी पर दिखाया जाता है | परन्तु आप इसे अपने घर पर आसानी से बना सकते है |
AUSHDHI KE PRYOG SE KREN NSHE KO DUR
AUSHDHI KE PRYOG SE KREN NSHE KO DUR 
एक और उपाय है नशे की लत को छुड़ाने क लिए इसका वर्णन इस प्रकार से है |
अदरक जो सभी के घरों में आसानी से मिल जाती है | इन अदरक को छोटे – छोटे टुकड़ों में काट लें | और इसमें एक निम्बू और काला नमक मिलाकर धुप में सुखा लें | जब अदरक अच्छी तरह से सुख जाये यानि जब अदरक का पानी खत्म हो जाये तो इन अदरक के टुकड़ों को जेब में रख लें | जब भी आपका दिल करें गुटखा खाने का या तम्बाकू खाने का या बीड़ी , सिगरेट पीने का | तो इन सूखे हुए अदरक के टुकड़ों को जेब से निकालकर खाएं | यह उपाय उन लोगों के लिए है , जो नशा छोड़ना चाहते है , लकिन छुट नही पाती | अदरक एक ऐसी औषधी है कि इसे मुंह में लेकर केवल चूसें , दांत से काटें नही | सुबह से शाम तक अदरक के टुकड़े को मुंह में रखने से मुंह सुरक्षित रहता है | इस उपयोग को करने से आपकी शराब पीने की लत , बीड़ी, सिगरेट , और गुटखा खाने की तलब दूर हो जाएगी | जैसे – जैसे अदरक अपना प्रभाव दिखाती है | वैसे – वैसे आपको इन सभी चीजों का उपयोग करना बंद हो जायेगा | इस उपाय को यदि आप एक महीने तक लगातार करते रहेंगे तो , आपके नशे की आदत छुट जाएगी |
हमने इस बात को प्रमाणित करने के लिए एक छोटा सा अध्यन किया | जिसमे एक ऐसे व्यक्ति को लिया गया जो हमेशा गुटखा खाता था | कभी – कभी तो वह व्यक्ति गुटखे को मुंह में लेकर सो जाता था | लेकिन एक बार उसे गुटखा खाने से तकलीफ हुई | फिर हमने अदरक के प्रयोग को उस व्यक्ति पर अजमाया | यकीन नही हुआ कि केवल एक सप्ताह में ही उस व्यक्ति की गुटखा खाने की आदत छुट गई | क्योंकि अदरक एक ऐसी चीज है | जिसे हम रसायनशास्त्र भी कहते है |
ADRK KA UPYOG KREN
ADRK KA UPYOG KREN
अदरक में सल्फर की अधिक मात्रा उपस्थित होती है | जब हम अदरक को चूसते है तो यह हमारी लार के साथ हमारे शरीर में चली जाती है | जब सल्फर हमारे शरीर के खून में मिलता है तो यह हमारे हार्मोन को सक्रीय कर देते है | जो हमारे अंदर नशे करने की इच्छा को ही खत्म कर देता है | माना जाता है कि जब किसी व्यक्ति के अंदर सल्फर की कमी होती है तो उस समय व्यक्ति नशे की और आकर्षित होता है | और वह शराब , तम्बाकू और सिगरेट का सेवन करंता है | जब सल्फर उसके शरीर में कम हो जाता है तो वह दोबारा से इन सभी चीजों का सेवन करने लगता है | आज हमने आपको नशे की आदत छुड़ाने के लिए एक आसान सा उपाय बताया है | जिसमे आपको अधिक खर्च भी नही करना पड़ेगा | यदि आप इस उपाय को नही कर सकती तो हमारे पास एक और दूसरा विकल्प है |
SULPHUR 200 KI SHISHI
SULPHUR 200 KI SHISHI 
जैसा की आप जानते है कि अदरक में सल्फर की मात्रा अधिक होती है | जो हमारे शरीर में इसकी कमी को पूरा करते है | परन्तु इस सल्फर को आप होमेओपेथी की दुकान से भी खरीद सकते है | यह दवा शीशी में भरी हुई होगी | इसकी थोड़ी सी मात्रा को पानी में डालकर देखें | यह पानी का रूप ले लेता है | इसे हम सल्फर का घोल भी कहते है |
यह औषधी दिखने में पानी की तरह आती है | इस दवा की एक बूंद को रात को सोते समय जीभ पर डालें | ले दिन फिर सुबह खाली पेट इस दवा की एक बूंद डालें | इस तरह से एक दिन में कम से कम तीन बार इस दवा का उपयोग करें | जो व्यक्ति शराब का अधिक से अधिक सेवन करता है | इस उपाय को करने से केवल दो से तीन महीने में दारु छोड़ देगा | यही सल्फर अदरक में भी होता है | अगर आप सल्फर को होमेओपेथी की दूकान से खरीदने के लिए जाते है तो उसे कहें कि सल्फर 200 की एक शीशी दें | परन्तु जो व्यक्ति बहुत ही पियक्कड़ है , उनके लिए आप 1000 potency की दवा भी ले सकते है | इस दवा से आप लगभग 1000 लोगों की दवा भी छुडवा सकते है |   
जो लोग अधिक से अधिक चाय , कॉफ़ी का अधिक सेवन करते है | तो उनके शरीर में आर्सेनिक तत्व की कमी हो जाती है | उसके लिए आप आर्सेनिक 200 का प्रयोग कर सकते है | इस उपाय को करने से आपकी चाय , काफी की आदत छुट जायगी |
जो लोग तम्बाकू और सिगरेट और गुटखे का सेवन करता है | उनके शरीर में फास्फोरस की कमी हो जाती है | इसके लिए आप फास्फोरस 200 का उपयोग कर सकते है | इसका प्रयोग करने से आपकी तम्बाकू और सिगरेट और गुटखे की आदत छुट जाएगी |
SULPHUR 200 KI SHISHI
SULPHUR 200 KI SHISHI 
यदि आप शराब का अधिक सेवन करते है | तो व्यक्ति के शरीर में सल्फर की कमी हो जाती है | इसे छुड़ाने के लिए आप सल्फर 200 का उपयोग कर सकते है | इस दवा को आप बाजार से आसानी से खरीद सकते है |
आज हमने आपको नशे की आदत को छुड़ाने के लिए कुछ उपाय के बारे में बताया है | जिसको अपनाकर आप इस बुरी लत से पीछा छुड़ा सकते है | 


नशीले पदार्थों से मुक्ति पाने के लिए कुछ आसन से उपाय ,Nhile Pdarthon Se Mukti Pane Ke Liye Kuch Asan Se Upay | Nsha Krne Vale Pdarth Ke Naam ,Nsha Krne Se Honi Vali Bimariyan ,Nashe Ko Dur Krne Ke Liye Koun Si Aushdhi Bnayen |  

No comments:

Post a Comment


http://ayurvedhome.blogspot.in/2015/09/pet-ke-keede-ka-ilaj-in-hindi.html







http://ayurvedhome.blogspot.in/2015/08/manicure-at-home-in-hindi.html




http://ayurvedhome.blogspot.in/2015/11/importance-of-sex-education-in-family.html



http://ayurvedhome.blogspot.in/2015/10/how-to-impress-boy-in-hindi.html


http://ayurvedhome.blogspot.in/2015/10/how-to-impress-girl-in-hindi.html


http://ayurvedhome.blogspot.in/2015/10/joint-pain-ka-ilaj_14.html





http://ayurvedhome.blogspot.in/2015/09/jhaai-or-pigmentation.html



अपनी बीमारी का फ्री समाधान पाने के लिए और आचार्य जी से बात करने के लिए सीधे कमेंट करे ।

अपनी बीमारी कमेंट करे और फ्री समाधान पाये

|| आयुर्वेद हमारे ऋषियों की प्राचीन धरोहर ॥

अलर्जी , दाद , खाज व खुजली का घरेलु इलाज और दवा बनाने की विधि हेतु विडियो देखे

Allergy , Ring Worm, Itching Home Remedy

Home Remedy for Allergy , Itching or Ring worm,

अलर्जी , दाद , खाज व खुजली का घरेलु इलाज और दवा बनाने की विधि हेतु विडियो देखे

Click on Below Given link to see video for Treatment of Diabetes

Allergy , Ring Worm, Itching Home Remedy

Home Remedy for Diabetes or Madhumeh or Sugar,

मधुमेह , डायबिटीज और sugar का घरेलु इलाज और दवा बनाने की विधि हेतु विडियो देखे