Jaundice Treatment in Hindi | पीलिया का इलाज | Piliya ka ilaj

पीलिया - jaundice - peelia

पीलिया एक ऐसी बीमारी है जो किसी भी व्यक्ति को हो सकती है यह बीमारी मनुष्य के लिए कभी - कभी जानलेवा भी हो जाती है इस बीमारी में मनुष्य का खून पीला पड़ने लगता है और शरीर कमजोर हो जाता है इस बीमारी का मुख्य कारण पाचन शक्ति का सही ढंग से काम करना मनुष्य की पाचन शक्ति ख़राब होने के कारण खून बनना बंद हो जाता है और उनके शरीर का रंग धीरे - धीरे पीला पड़ने लगता है इसी को हम पीलिया कहते है पीलिया की बीमारी होने पर रोगी को समय रहते ही इसका उपचार करना चाहिए नही तो ये जानलेवा बन जाती है   पीलिया जैसी बीमारी को ठीक करने के लिए घर में रखी वस्तुओं से इस बीमारी को जड़ से ख़त्म किया जा सकता है इसका उपचार इस प्रकार है

Jaundice Treatment in Hindi , पीलिया का इलाज , Piliya ka ilaj

पीलिया का इलाज प्याज़ से


पीलिया का इलाज प्याज़ से :-Pilia ka ilaj pyaj se

पीलिया की बीमारी में प्याज़ का बहुत ही महत्व है सबसे पहले एक प्याज़ को छीलकर इसके पतले - पतले हिस्से करके इसमें नींबू का रस निचोड़े तथा इसके बाद इसमें पीसी हुई थोड़ी सी काली मिर्च और काला नमक डालकर प्रतिदिन सुबह - शाम इसका सेवन करने से पीलिया की बीमारी १५ से २० दिन में ख़त्म हो जाती है

चने से पीलिया का उपचार

चने से पीलिया का उपचार :- Chane se pilia ka upchaar

रात्रि को सोने से पहले चने की दाल को भिगोकर रख दे प्रातकाल उठकर भीगी हुई दाल का पानी निकालकर उसमे थोड़ा सा गुड डालकर मिलाये और इसको कम से कम एक से दो सप्ताह तक खाने से पीलिया की बीमारी ठीक हो जाती है पीलिया की बीमारी को ठीक करने के लिए और भी अनेक उपाए है

सोंठ से पीलिया का उपचार


सौंठ :- Dry ginger to cure jaundice 

सौंठ से भी पीलिया के रोग को ठीक किया जा सकता है

उपचार (सामग्री ) :- पिसी हुई सौंठ - १० ग्राम
                       गुड   -  १० ग्राम

प्रयोग विधि :- 

ऊपर बताई गई दोनों साम्रगी को अच्छी तरह से मिलाकर प्रातकाल ठन्डे पानी के साथ खाने से  १० से १५ दिन में पीलिया की बीमारी से छुटकारा मिल जाता है

पीपल से पीलिया का उपचार :- Peepal ke ped se piliya ka upchaar

पीपल एक प्रकार की जड़ है जो दिखने में काले रंग की होती है यह जड़ पंसारी की दुकानों पर आसानी से पाई जाती है इस जड़ के तीन नग लेकर बारीक़ पीसकर पानी में पुरे एक दिन तक भिगोकर रखे या फुलाए फुलाने के बाद बचे हुए पानी को बाहर निकालकर फेक दे तथा  फुले हुए नग में नींबू का रस , काली मिर्च और थोड़ा सा नमक डालकर रोजाना खाने से पीलिया एक सप्ताह में ही  ठीक हो जायेगा इसी तरह हर दिन नगो की संख्या एक - एक करके बढ़ाते जाये और ऊपर बताई गई विधि के अनुसार इसका सेवन करते रहे जब नगो की संख्या दस हो जाये तब इसका प्रयोग बंद कर दे बताया गया उपचार का उपयोग करने से पीलिया की बीमारी तो ठीक हो जाती है बल्कि पेट से जुडी सभी बीमारियाँ जैसे :- पुराना कब्ज , यरक़ान, पुराना बुखार इत्यादि रोगों से छुटकारा मिल जाता है
बादाम से पीलिया का उपचार


बादाम से पीलिया का उपचार :- almond or badaam se piliya ka illaj,

सामग्री

बादाम की गिरी         - १०
छोटी इलायची के बीज   - के
छुहारे                 - नग

इन सभी सामग्री को मिलाकर किसी भी मिट्टी के बर्तन में डालकर रात्रि को सोने से पहले भिगो दे और प्रातकाल उठकर इन सभी भीगी हुई सामग्री में ७५ ग्राम मिश्री मिलाकर इनको बारीक़ पीसकर इसमें ५० ग्राम ताजा मक्खन मिलाये और इसे एक मिश्रण की तरह तैयर करके रोगी को लगातार कम से कम दो सप्ताह तक सेवन करने से पीलिया की बीमारी ठीक हो जाती है साथ ही पेट में बनी गर्मी भी दूर हो जाती है

नोट :- इस औषधी का उपयोग करते समय किसी गर्म पदार्थों को नही खाना चाहिए

पीलिया का लहसुन से इलाज

पीलिया का लहसुन से इलाज :- lehsun or garlic se peelia ka upchaar

पीलिया की बीमारी में लहसुन भी फायदेमंद होता है इसलिए कम से कम लहसुन ले और इन्हे छीलकर किसी वस्तु से पीसकर इसमें २०० ग्राम दूध मिलाये और रोगी को इसका रोजाना सेवन करने से पीलिया की बीमारी जड़ से ख़त्म हो जाती है तथा पीलिया की बीमारी का उपकार इमली से भी किया जा सकता है

पीलिया का लहसुन से इलाज

इमली से पीलिया का इलाज :- Imli or Tamarind treats jaundice

इमली खाने के अनुसार रात्रि को सोने से पूर्व भिगोकर रख दे प्रातकाल उठकर भीगी हुई इमली को मसलकर इसके छिलके उतार कर अलग रख दे तथा इमली का बचे हुए पानी में काली मिर्च और काला नमक मिलाकर दो सप्ताह तक पीने से पीलिया रोग ठीक हो जाता है

पीलिया का आँवला से उपचार


पीलिया का आँवला से उपचार :- Amla peeliya rog ka ilaj

4 comments:

  1. kya pipal wala ilaj karte samay sath he sath doctor ki davaiya bhi le sakte hai ?

    ReplyDelete
  2. I just want to know that while doing the treatment of Jaundice (Piliya) by the method of Pipal as shown above can we simultaneously take the medicine from Doctors too?

    ReplyDelete
  3. Agar piliya 15 din se ho to kaon sa ilaj karna chahiye

    ReplyDelete


http://ayurvedhome.blogspot.in/2015/09/pet-ke-keede-ka-ilaj-in-hindi.html







http://ayurvedhome.blogspot.in/2015/08/manicure-at-home-in-hindi.html




http://ayurvedhome.blogspot.in/2015/11/importance-of-sex-education-in-family.html



http://ayurvedhome.blogspot.in/2015/10/how-to-impress-boy-in-hindi.html


http://ayurvedhome.blogspot.in/2015/10/how-to-impress-girl-in-hindi.html


http://ayurvedhome.blogspot.in/2015/10/joint-pain-ka-ilaj_14.html





http://ayurvedhome.blogspot.in/2015/09/jhaai-or-pigmentation.html



अपनी बीमारी का फ्री समाधान पाने के लिए और आचार्य जी से बात करने के लिए सीधे कमेंट करे ।

अपनी बीमारी कमेंट करे और फ्री समाधान पाये

|| आयुर्वेद हमारे ऋषियों की प्राचीन धरोहर ॥

अलर्जी , दाद , खाज व खुजली का घरेलु इलाज और दवा बनाने की विधि हेतु विडियो देखे

Allergy , Ring Worm, Itching Home Remedy

Home Remedy for Allergy , Itching or Ring worm,

अलर्जी , दाद , खाज व खुजली का घरेलु इलाज और दवा बनाने की विधि हेतु विडियो देखे

Click on Below Given link to see video for Treatment of Diabetes

Allergy , Ring Worm, Itching Home Remedy

Home Remedy for Diabetes or Madhumeh or Sugar,

मधुमेह , डायबिटीज और sugar का घरेलु इलाज और दवा बनाने की विधि हेतु विडियो देखे