घरेलू उपचार से करें गुर्दे की पथरी को नष्ट , Ghrelu Upchar Se Kren |

गुर्दे की पथरी को दूर करने के लिए कुछ घरेलू उपचार :-
घरेलू उपचार से करें गुर्दे की पथरी को नष्ट
घरेलू उपचार से करें गुर्दे की पथरी को नष्ट
गुर्दे की पथरी को किडनी स्टोन भी कहते है | यह एक बहुत ही कष्टदायी और भयंकर बीमारी होती है | इस बीमारी में व्यक्ति तडप उठता है | हमारे शरीर में पथरी का निर्माण कैल्शियम ओक्झेलेट के कारण होता है | शरीर के गुर्दे में एक से अधिक पथरी हो सकती है | जब पथरी अपने स्थान से खिसकती है तो दर्द उत्पन्न करती है | यह दर्द बहुत पीड़ादायक होता है | यह अपने स्थान से खिसक कर यूरिन ब्लाडर में चली जाती है | जिसके कारण पेशाब होने में कष्ट होता है , पसीना निकलता है , उल्टी होती है और फिर ठंड लगती है | ये सभी पथरी के सामान्य लक्षण है | यदि किसी को नुकीली पथरी हो जाती है तो उसके मूत्र से खून भी आता है | इस रोग में पेशाब बार – बार आता है और दर्द भी होता है | पथरी के रोगी को इससे निजात पाने के लिए अल्ट्रासाउंड करवाना चाहिए | जिससे हमे यह मालूम हो सके कि हमारे गुर्दे में कितनी पथरी है और कितनी बड़ी है | उसके अनुसार ही इलाज करना चाहिए | वैसे आयुर्वेद के उपचार से कम से कम 35 से 40 MM की पथरी भी निकल जाती है | आज हम इस छोटे से लेख के माध्यम से आपको पथरी को दूर करने के कुछ आसान से घरेलू उपाय बता रहे है | जिनका उपयोग करके आप कष्टदायी पथरी से निजात पा सकते है |
Tulsi Ke Upyog Se Kren Pathri Ko Dur
Tulsi Ke Upyog Se Kren Pathri Ko Dur
1. छोटी पथरी को दूर करने के लिए रोजाना तुलसी के पत्तों को पीकर उसके रस में शहद मिलाकर खाली पेट पीयें | इस उपाय को लगातार 5 से 6 महीने तक करें | ऐसा करने से गुर्दे की छोटी पथरी निकल जाती है |
2.एक गिलास पानी में दो अंजीर डालकर उबाल लें | इस पानी को सुबह के समय खाली पेट पीयें | इस उपचार को एक महीने तक रोजाना करें | पथरी की समस्या दूर हो जाएगी |
3.निम्बू एक बहुत ही फायदेमंद खाद्य पदार्थ है | इसमें पथरी को घोलने की शक्ति होती है | इसे उपयोग करने के लिए एक गिलास पानी को हल्का गर्म कर लें और इसमें एक निम्बू का रस मिला दें ओर पी लें | ऐसा करने से कुछ ही महीनों में पथरी घुल के मूत्र क्र द्वारा शरीर से बाहर निकल जाएगी |
मूली के पत्ते है लाभदायक
मूली के पत्ते है लाभदायक 
4.मुली के पत्तों का रस निकालकर पीने से भी पथरी की समस्या से निजात मिल जाती है | इस उपचार को एक दिन में कम से कम दो बार करें |
5.ज्यादा से ज्यादा पानी का सेवन करें | क्य्कोई पथरी पानी के जरिये ही शरीर से बाहर निकलती है |
6.पथरी के रोगी को दो सेब रोजाना खाना चाहिए | इससे पथरी के रोग में फायेदा मिलता है |
7. तरबूज में पानी की मात्रा अधिक होती है | इसलिए जब तक तरबूज का सीजन है तो तरबूज अवश्य खाएं | यह पुरुषों के लिए काम शक्ति वर्धक होता है |
कुल्थी की दाल
कुल्थी की दाल 
8.कुल्थी की दाल :- पथरी के रोग को ठीक करने से लिए कुल्थी की दाल का सूप बनाकर पीना चाहिए | इसके लिए दो कप पानी में 20 ग्राम कुल्थी की दाल डालकर उबाल लें | जब यह उबलकर गाढ़ी हो जाये तो इसे पी लें | इस उपाय को रोजाना सुबह और शाम के समय खाली पेट करें | इससे पथरी की समस्या दूर हो जाती है |
9.पथरी के रोगी को अंगूर का सेवन करना चाहिए | क्योंकि अंगूर में पानी और पोटेशियम की मात्रा अधिक होती है | इसमें अलुबुमिन और सोडियम कम होता है | जो गुर्दे के लिए अति उत्तम होता है |
10.     पथरी को गलाने के लिए चौलाई सबसे उतम आहार होता है | चौलाई को उबालकर खाएं | इसे पूरे दिन में 3 बार खाएं | ऐसा करने से पथरी के रोगी को फायदा मिलता है |
11.     मुली के बीज , गाजर के बीज , की 20 – 20 ग्राम की मात्रा , गोखुरू की 20 ग्राम की मात्रा , जवाखार और ह्जरुल यहूद की 5 – 5 ग्राम की मात्रा लेकर मिला ले और इसे पीसकर एक मिश्रण तैयार करें | इस तैयार मिश्रण की 5 – 5 ग्राम की एक पुड़ियाँ बना लें | इन पुड़ियाँ को दिन में तीन बार समय के अनुसार खाएं | इस पुड़ियाँ को दूध के साथ , ताज़े पानी के साथ या फिर लस्सी के साथ लें | इस उपचार को करने से पथरी का रोग जल्द से जल्द मिट जाता है |
बथुआ से करें पथरी को दूर
बथुआ से करें पथरी को दूर 
  
12.     बथुआ भी पथरी के लिए लाभदायक होता है | आधे किलो बथुए में 800 मिलीलीटर पानी मिलाकर उबाल लें | इस उबले हुए बथुए को किसी सूती कपड़े या छन्नी से छान लें | इस पानी में सेंधा नमक और थोडा सा काली मिर्च का पावडर मिलाकर पीयें | इस प्रकार के उपचार को करने से गुर्दे की पथरी निकल जाती है |और साथ ही साथ गुर्दे के सारे विकार भी दूर हो जाते है |
 Pathri Ko Nikalne Ke Vibhinn Upay
 Pathri Ko Nikalne Ke Vibhinn Upay
13.     पथरी को ठीक करने के लिए प्याज कारगर उपाय है | इसमें पथरी को नष्ट करने वाले तत्व होते है | प्याज को पीसकर उसका रस निकाल लें | आप इसे मिक्सी में भी पीस सकते है | इसके रस को किसी कपड़े से छान लें | इस तरह के पानी को रोजाना खाली पेट सुबह के समय पीने से पथरी के छोटे – छोटे टुकड़े हो जाते है और वह मूत्र के द्वारा शरीर से बाहर निकल जाते है |
14.     आंवले को पीसकर उसका चूर्ण बना लें | अब एक मुली के चार हिस्से काट लें | इस चूर्ण को कटी हुई मुली पर लगाकर खाएं | इस उपाय को करने से शरीर की पथरी नकल जाती है |
15.     किसी ऊँचे स्थान जंहा से आप आसानी से चढकर नीचे कूद सकते है | उस स्थान पर से बार – बार कूदे | ऐसा करने से पथरी अपने स्थान से खिसक जायगी और पेशाब क्र रास्ते से बाहर आ जाएगी | जो व्यक्ति कमजोर है , वह इस उपाय का प्रयोग ना करें |
आंवला है लाभदायक पथरी के लिए
आंवला है लाभदायक पथरी के लिए 
16. सौंफ , सुखा हुआ धनिया और मिश्री की 50 – 50 ग्राम की मात्रा लेकर आपस में मिला कर एक मिश्रण बनाएं | इस मिश्रण को रात के समय पानी में भिगोकर रख दें | अगले दिन सुबह सौंफ और धनिये को पीसकर पानी में मिला दें | इस तरह से तैयार किये हुए पानी का सेवन करने से पथरी शरीर से बाहर निकल जाती है |  
17. पालक :- नारियल का 100 मिलिलीटर पानी में लगभग 10 मिलीलीटर पालक का रस मिलाकर एक मिश्रण बनाएं | इस तरह के पानी को लगातार 15 दिन तक पीयें | पथरी समाप्त हो जाएगी |
18.  पालक के रस की 40 से 50 मिलीलीटर की मात्रा को रोजाना खाली पेट पीने से पथरी निकल जाती है |
जवाखार :- देशी गाय के दूध का मट्ठा २५० ग्राम लें | इसमें 5 ग्राम जवाखार मिला दें | इस मिश्रण को सुबह शाम पीन से  गुर्दे की पथरी समाप्त हो जाती है |इसके आलावा जवाखार और चीनी की 2 2 ग्राम की मात्रा लें | इन दोनों को पानी के साथ खा ले | ऐसा करने से पथरी छोटे छोटे टुकड़ों में कटकर पेशाब के रास्ते से बाहर निकल जाती है | इस उपाय को दिन में दो बार सुबह और शाम के समय करें
फिटकरी के उपयोग से निकालें पथरी
फिटकरी के उपयोग से निकालें पथरी 
फिटकरी :- भुनी हुई फिटकरी की लगभग 1 1 ग्राम की मात्रा को पानी के साथ खाने से पथरी का रोग मिट जाता है |
गोक्षुर के बीज को प्स्स्केर उसका बरुक चूर्ण बना लें | इस चूर्ण की 5 से 6 ग्राम की मात्रा को बकरी के दूध के साथ दिन में दो बार खाएं | पथरी का रोग दूर हो जाता है |
आलू का सेवन करने से भी पथरी का रोग दूर हो जाता है | पथरी के रोगी को अधिक से अधिक आलू का सेवन करना चाहिए  और अधिक से अधिक पानी भी पीना चाहिए | ताकि गुर्दे की पथरी आसानी से निकल जाएँ | आलू में मैग्नीशियम नामक तत्व पाया जाता है | जो हमारे शरीर से पथरी को निकालता है | इसके आलावा आलू के उपयोग से शरीर में और दूसरी पथरी नही बनती |
तुलसी का उपयोग :- तुलसी के सूखे हुए पत्ते की 20 ग्राम की मात्रा के साथ 20 ग्राम अजवाइन और लगभग 10 ग्राम सेंधा नमक ले और इसे पीसकर एक बर्क मिश्रण बना लें | इस तैयार मिश्रण की 3 3 ग्राम की मात्रा को हल्के गर्म पानी के साथ सुबह शाम लेने से पथरी से होने वाला दर्द में आराम मिलता है और साथ ही साथ पथरी भी निकल जाती है |
गोक्षुर का उपयोग
गोक्षुर का उपयोग 
दो प्याज लें | इसे अच्छी तरह से छिल लें| अब एक गिलास पानी में प्याज डालकर कम आंच पर अच्छी तरह से उबाल लें | जब यह पक जाये तो इसे मिक्सी में डालकर पीस लें | इसके रस को किसी कपड़े से छान लें और इसे पी लें | इस तरह के उपचार को लगातार 8 से 10 दिन तक करें | ऐसा करने से पथरी के छोटे छोटे टुकड़े हो जाते है जो पेशाब के द्वारा गुर्दे से बाहर निकल जाते है |
पथरी के रोगी के लिए परहेज :- पथरी के रोगी को निम्नलिखित वस्तुएं नही खानी चाहिए |
टमाटर
पालक, बैंगन , चावल , चाय , शराब , उड़द की दाल , सूखे मेवे आदि |काले अंगूर आंवला , चीकू , चाय आदि में ओक्सिलेट होता है | इसलिए इनका सेवन कम मात्रा में करना चाहिए |  इसके आलावा उसे अपने पेशाब के वेग को भी नही रोकना चाहिए |



घरेलू उपचार से करें गुर्दे की पथरी को नष्ट , Ghrelu Upchar Se Kren, Gurde ki Pathri Ko Nasht | Pathri Ke Lakshan , Tulsi Ke Upyog Se Kren Pathri Ko Dur , Nimbu Ke Fayde , Pani Ka Adhik Sevn Kren , Pathri Ko Nikalne Ke Vibhinn Upay |  

No comments:

Post a Comment


http://ayurvedhome.blogspot.in/2015/09/pet-ke-keede-ka-ilaj-in-hindi.html







http://ayurvedhome.blogspot.in/2015/08/manicure-at-home-in-hindi.html




http://ayurvedhome.blogspot.in/2015/11/importance-of-sex-education-in-family.html



http://ayurvedhome.blogspot.in/2015/10/how-to-impress-boy-in-hindi.html


http://ayurvedhome.blogspot.in/2015/10/how-to-impress-girl-in-hindi.html


http://ayurvedhome.blogspot.in/2015/10/joint-pain-ka-ilaj_14.html





http://ayurvedhome.blogspot.in/2015/09/jhaai-or-pigmentation.html



अपनी बीमारी का फ्री समाधान पाने के लिए और आचार्य जी से बात करने के लिए सीधे कमेंट करे ।

अपनी बीमारी कमेंट करे और फ्री समाधान पाये

|| आयुर्वेद हमारे ऋषियों की प्राचीन धरोहर ॥

अलर्जी , दाद , खाज व खुजली का घरेलु इलाज और दवा बनाने की विधि हेतु विडियो देखे

Allergy , Ring Worm, Itching Home Remedy

Home Remedy for Allergy , Itching or Ring worm,

अलर्जी , दाद , खाज व खुजली का घरेलु इलाज और दवा बनाने की विधि हेतु विडियो देखे

Click on Below Given link to see video for Treatment of Diabetes

Allergy , Ring Worm, Itching Home Remedy

Home Remedy for Diabetes or Madhumeh or Sugar,

मधुमेह , डायबिटीज और sugar का घरेलु इलाज और दवा बनाने की विधि हेतु विडियो देखे