बालों का झड़ना | Hair Loss Treatment in Hindi

    बालों का झाड़ना :-

     बालों का झाड़ना एक ऐसी समस्या जो हर उम्र के लोगो में देखी जा सकती है. वृद्धा अवस्था में यदि बाल झड़े तो यह एक आम बात होती हैं, परन्तु यदि यही समस्या अर्थात बालों का झड़ना युवा अवस्था में हो तो यह एक चिंताजनक बात होती हैं और एक महिला के लिए तो यह और भी गंभीर व चिंताजनक बात हो जाती हैं. इसका इलाज समय रहते करा लिया जाए तो ही ठीक रहता है अन्यथा यह समस्या बढ़कर एक गंभीर रूप के सकती हैं. प्राय: बालों की आयु २ से ६ वर्ष की होती है और उनके बढ़ने की गति लगभग आधा इंच प्रतिमाह होती हैं. अपनी आयु पूरी हो जाने पर बाल आपने आप ही गिर जाते है और उनकी जगह नए बाल आ जाते है. अर्थात दस से बीस बाल झड़ना कोई चिंता करने की बात नहीं हैं, यह एक स्वभाविक बात होती है परन्तु यदि बाल अत्यधिक संख्या में टूटने लगे या पूरे गुच्छे के रूप में निकलने लगे तो यह अवश्य ही एक परेशानी वाली स्थिति हो जाती हैं. इससे बाल हलके नजर आने लगते है, जो आपकी सुन्दरता पर नकारात्मक प्रभाव डालता हैं.
Hair Loss Treatment in Hindi
Hair Loss Treatment in Hindi
बालों के झड़ने की सामन्यत: तीन अवस्थाएँ होती हैं जिनमे बालों का झड़ना सामन्य कारणों से देखा जा सकता हैं :-

  • १.  साधारण तरीके से बालों का झड़ना
  • २.  स्थाई गंजापन
  • ३.  अस्थाई गंजापन

  • (क)                  साधारण रूप से बालों के झड़ना :- साधारण रूप से बालों के झड़ने के कई कारण हो सकते हैं, जिनमे से कुछ मुख्य कारण इस प्रकार हैं : - 

  • १.  गर्भावस्था के समय प्राय: बालों के झड़ने जैसी समस्या को देखा हा सकता है. 

  • २.  प्रसव के पश्चात् भी सामन्य दर के मुकाबले थोड़े अधिक संख्या में बाल झड़ते हैं.

  • ३.  जब माताएँ अपने शिशु को स्तनपान कराती है उस समय भी बाल अधिक टूटते है. 
बालों का झड़ना
  • ४.  किसी बीमारी का होना भी बालो के टूटने का कारण हो सकता है, बीमारी जैसे टाइफाइड, फ्लू, मलेरिया आदि.

  • ५.  गले, आँख व दांत आदि में किसी प्रकार के संक्रमण भी एक कारण हो सकता हैं.

  • ६.  कभी यह भी देखा जाता है कि किसी दवाई के reaction हो जाने पर भी बालों का टूटना देखा जा सकता हैं. 

  • ७.  दूषित वातावरण के संपर्क में आने पर भी इस समस्या से झूझना पड़ता हैं. 

  • ८.  मासिक धर्म के बंद के समय या उस दौरान भी यह समस्या देखी जाती हैं. 

  • ९.  घटिया किस्म के शैम्पू, साबुन, तेल आदि के प्रयोग करने भी बाल अधिक झाड़ते हैं. 

  • १०.                   रसायन युक्त प्रसाधन के प्रयोग करना भी एक मुख्य करण हो सकता हैं.
बाल गिरने का कारण
बाल गिरने का कारण
  • इन सब सामान्य कारणों के रहते बालों का झड़ना सामने होता है, इस सब की स्थिति सामान्य होते ही बालों का टूटना स्वयं ही बंद हो जाता हैं. यदि स्थिति सामान्य होने पर भी बालों का गिरना बंद नहीं होता हैं, तो सबसे पहले हमे उनके गिरने का वास्तव में कारण जानना चाहिए. सही कारण का पता होने पर ही हम उनके लिए उपचार कर सकते है, कारण के अनुसार उचित उपचार करने पर बालों का अत्यधिक गिरना बंद हो जाता है. यदि ऐसा ना हो अर्थात स्तिथी गंभीर होने पर किसी अच्छे त्वचा विशेषज्ञ से संपर्क करना चाहिए. 


साथ ही हमे इस बात का भी ध्यान रखना चाहिए की बाल न तो ज्यादा गर्म और न ही ज्यादा ठन्डे पानी से धोना चहिए, ऐसा करने से बालों के NATURE  पर बुरा प्रभाव पड़ता हैं. बालों को साफ़ करने के लिय किसी अच्छे आयुर्वेदिक शैम्पू का प्रयोग करना चाहिए अथवा रीठा, आँवला, शिकाकाई का प्रयोग करना बालों की सेहत के लिय लाभकारी होता है.
home remedies for hair loss in hindi
home remedies for hair loss in hindi
(ख)                  अस्थाई गंजापन :- स्थाई गंजापन से तात्पर्य पुरे सिर पर से बाल न झडकर सिर की त्वचा पर जगह जगह से बालों के टूटने से है, सिर के कही कही से गंजे होने को ही अस्थाई गंजापन कहते है, इसे एलोपेसिया नामक बीमारी के नाम से भी जाना जाता है. इस प्रकार की समस्या के होने के कई कारण हो सकते है, जैसे, शरीर में पोष्टिक तत्वों की कमी के कारण, मानिसक तनाव के कारण, स्नायविक गडबड़ी के कारण, मानिसक रूप से आघात आदि ऐसे कुछ कारण हो सकते है, जिनके रहते किसी व्यक्ति को अस्थाई गंजापन जैसे परेशानी का सामना करना पद सकता हैं.

          अस्थाई गंजापन के उपाय :- अपने शरीर में पोष्टिक तत्वों की कमी न होने दे, पर्याप्त मात्रा में भोजन ग्रहण करे व भोजन में सभी पोष्टिक तत्वों को नियमित रूप से शामिल करे. इससे बालों के गिरने के संख्या में गिरावट आएगी. मानिक रूप से तनाव होना अस्थाई गंजापन के होने का प्रमुख कारण है, अतः आपको अपने आस पास ऐसा वातावरण बनाना चाहिए जिससे किसी भी प्रकार के मानसिक तनाव का माहौल ना बने. कोशिश करे की आप खाली ना बैठे, अपना मन किसी रचनात्मक कार्यो में लगाए रखे. ऐसा करने से आप तनाव से दूर रहेंगे.
बालों का गिरना
बालों का गिरना
अपने नाड़ी संसथान को ठीक रखने के लिए किसी अच्छे डॉक्टर को दिखाना चाहिए, तथा उसके परामर्श हेतु उचित उपचार करना चाहिए. रक्त संचार की गति को बढ़ाने के लिए सिर की त्वचा पर टिंचर आयोडिन से मालिश कर सकते हैं. इसके अलावा सिर के जिस भाग पर गंजापन हो उस हिस्से पर शुष्क बर्फ अर्थात कार्बनिक स्नो का भी प्रयोग किया जा सकता है, इसके लिए शुष्क बर्फ को प्रभावित त्वचा पर लगाये इससे रक्त संचार की गति में वृद्धि होती है. कारण के अनुसार उचित उपचार होने पर लगभग तीन से छह महीने के बीच में अस्थाई गंजापन की समस्या ठीक हो जाती हैं.

(ग)                    स्थाई गंजापन :- स्थाई गंजापन में अस्थाई गंजापन के मुकाबले बाल अधिक तेजी से झड़ते है, स्थाई गंजापन में बालो की जड़े कमजोर होने लगती है जिसके कारण बालों का गिरना अधिक हो जाता है. इस तरह के गंजेपन के कई प्रकार के कारण हो सकते हैं. जैसे, अत्यधिक मानसिक तनाव, वंशानुगत शरीर में पौष्टिक तत्वों की कमी होना, अत्यधिक मानसिक कार्य, गर्म वातावरण का प्रभाव पड़ना, बालों की ठीक प्रकार से देखभाल न होने पर, ऐसे कारणों के रहते स्थाई गंजापन का सामना करना पड़ सकता है.

बाल गिरने का इलाज
बाल गिरने का इलाज
स्थाई गंजेपन में बाल जड़ो से टूटने लगते है, और कोशो के नये बाल उत्पन्न करने की क्षमता समाप्त होने लगती है. जिससे नये बाल उगना बंद हो जाते हैं. अस्थाई गंजेपन की समस्या से निदान पाने के लिए किसी अच्छे व अनुभवी त्वचा विशेषज्ञ से इलाज करना चाहिए. 

बालों की मसाज 
केशों की साफ सफाई 
घने काले बालों का राज 
बाजारी शैम्पू की सही जानकारी 
बालों की सुन्दरता का असली राज
केश सौन्दर्य
बालों के प्रकार और उनकी देखभाल 
बालों का असमय सफेद होना 
बालों को कंघी करने से होने वाले फायदे 
रुसी बालों की दुश्मन , कैसे करे खात्मा ?
बालों का झड़ना 
सफेद बालों की समस्या

लम्बे बालों का राज 

hair loss, hair fall, baalon ka girna, ballon ka jhadna, baal jhadne ka upchaar, baal girne ka ilaj, baalo ke dekhbhaal kaise kare, baalo ki samasya, baalon ke khoobsurti ka raaj, ganjepan ki samasya ka samadhan , sthai ganjapan, astahai ganjapan, baldness, home remedies for hair fall or hair loss in hindi, hair treatment and solution of hair problems, yedi aap ganje ho gaye hai to sharmaye nahi desi ghar mein paai jaane wale vastuon se aap apne baalon ka ghrelu ilaj kar sakte hai , 

अनचाहे बालों का समाधान 


1 comment:

  1. nice blog
    thanks for sharing information.
    Hair Care TreatmentsThe health of your hair and scalp can speak volumes about your internal balance. Factors like genetics, excessive use of chemicals, illness, weather changes and poor circulation are the major causes behind issues like hair fall, dandruff and damaged hair.

    ReplyDelete


http://ayurvedhome.blogspot.in/2015/09/pet-ke-keede-ka-ilaj-in-hindi.html







http://ayurvedhome.blogspot.in/2015/08/manicure-at-home-in-hindi.html




http://ayurvedhome.blogspot.in/2015/11/importance-of-sex-education-in-family.html



http://ayurvedhome.blogspot.in/2015/10/how-to-impress-boy-in-hindi.html


http://ayurvedhome.blogspot.in/2015/10/how-to-impress-girl-in-hindi.html


http://ayurvedhome.blogspot.in/2015/10/joint-pain-ka-ilaj_14.html





http://ayurvedhome.blogspot.in/2015/09/jhaai-or-pigmentation.html



अपनी बीमारी का फ्री समाधान पाने के लिए और आचार्य जी से बात करने के लिए सीधे कमेंट करे ।

अपनी बीमारी कमेंट करे और फ्री समाधान पाये

|| आयुर्वेद हमारे ऋषियों की प्राचीन धरोहर ॥

अलर्जी , दाद , खाज व खुजली का घरेलु इलाज और दवा बनाने की विधि हेतु विडियो देखे

Allergy , Ring Worm, Itching Home Remedy

Home Remedy for Allergy , Itching or Ring worm,

अलर्जी , दाद , खाज व खुजली का घरेलु इलाज और दवा बनाने की विधि हेतु विडियो देखे

Click on Below Given link to see video for Treatment of Diabetes

Allergy , Ring Worm, Itching Home Remedy

Home Remedy for Diabetes or Madhumeh or Sugar,

मधुमेह , डायबिटीज और sugar का घरेलु इलाज और दवा बनाने की विधि हेतु विडियो देखे