काली मिर्च के फायदे | Black Pepper Health Benefits in Hindi

काली मिर्च के औषधीय गुण

 एक गिलास पानी में अदरक और  ३ या ४ काली मिर्च मिलाकर पकाए | पकते – पकते जब पानी की मात्रा आधी रह जाये तो इसे छानकर पीये | इस प्रयोग से खांसी ठीक हो जाती है | चाय की जगह पर इस काढ़े का ही प्रयोग करे |

अधिक खांसी होने पर २ या ३  काली मिर्च को मूंह में रखकर चूसते रहे इससे खांसी में तुरंत आराम मिल जाता है और नींद भी अच्छी आती है |

सिर दर्द होता हो या हिचकी  आती हो तो काली मिर्च के ३ या ४ दाने को जलाकर इसके धुएं को सूंघे | इससे सिर का दर्द और हिचकी ठीक हो जाती है |

( काली मिर्च के उपयोग से हम बवासीर की बीमारी को ठीक कर सकते है | )

काली मिर्च के औषधीय गुण, kali mirch se labh aur fayde, काली मिर्च से घरेलु नुस्खे, काली मिर्च के फायदे,  Black Pepper Health Benefits in Hindi
काली मिर्च के औषधीय गुण, kali mirch se labh aur fayde, काली मिर्च से घरेलु नुस्खे, काली मिर्च के फायदे,  Black Pepper Health Benefits in Hindi

उपयोग करने की विधि   :- जीरा , और काली मिर्च को पीसकर बारीक़ कर लें | इस चूर्ण में एक चम्मच चीनी या मिश्री मिलाकर सेवन करें | इस मिश्रण का उपयोग दो या तीन बार करने से ही बवासीर जैसी बीमारी समाप्त हो जाती है | इसके आलावा शीतपित्त की बीमारी को ठीक करने के लिए कुछ काली मिर्च के दाने को पीसकर बारीक़ कर लें | इस बारीक़ चूर्ण में एक चम्मच शुद्ध देशी घी और थोड़ी सी मात्रा में शक्कर मिलाकर रोगी मनुष्य को देने से इस बीमारी से छुटकारा पाया जा सकता है |

जब कोई मनुष्य खांसी की बीमारी से पीड़ित होता है तो वह शारीरिक रूप से बहुत कमजोर हो जाता है | रोगी मनुष्य की इस कमजोरी और खांसी को ठीक करने के लिए आयुर्वेदिक तरीके का उपयोग किया जा सकता है | यह उपाय बहुत सरल और सस्ता है | जो हर मनुष्य अपने घर में ही कर सकता है | 

जैसे  :-

    ( सामग्री  )

काली मिर्च   :-  २० ग्राम
बादाम       :- १०० ग्राम
मिश्री        :- १५० ग्राम

बनाने की विधि   :- काली मिर्च और बादाम को कूटकर या पीसकर बारीक़ चूर्ण बना लें | इस चूर्ण में मिश्री को कूटकर मिला ले | हम मिश्री के स्थान पर खांड का भी उपयोग कर सकते है | अब इन तीनो के मिश्रण को किसी कांच की शीशी में भरकर किसी सुरक्षित जगह पर रख दे | रोजाना इस मिश्रण की एक ग्राम की मात्रा सुबह के समय और रात के समय हल्के गर्म दूध के साथ या पानी के साथ खाएं | इस प्रकार के उपचार से शरीरिक कमजोरी तो दूर होती है साथ ही साथ पुरानी से पुरानी खांसी भी ठीक हो जाती है |


ध्यान देने योग्य बातें :- काली मिर्च बहुत ज्यादा गर्म होती है इसलिए गर्भवती महिला और दो साल से कम उम्र के बच्चों को इसका उपयोग नहीं करना चाहिए | इसका उपयोग उनकी सेहत के लिए नुकसानदायक साबित हो सकती है |

No comments:

Post a Comment


http://ayurvedhome.blogspot.in/2015/09/pet-ke-keede-ka-ilaj-in-hindi.html







http://ayurvedhome.blogspot.in/2015/08/manicure-at-home-in-hindi.html




http://ayurvedhome.blogspot.in/2015/11/importance-of-sex-education-in-family.html



http://ayurvedhome.blogspot.in/2015/10/how-to-impress-boy-in-hindi.html


http://ayurvedhome.blogspot.in/2015/10/how-to-impress-girl-in-hindi.html


http://ayurvedhome.blogspot.in/2015/10/joint-pain-ka-ilaj_14.html





http://ayurvedhome.blogspot.in/2015/09/jhaai-or-pigmentation.html



अपनी बीमारी का फ्री समाधान पाने के लिए और आचार्य जी से बात करने के लिए सीधे कमेंट करे ।

अपनी बीमारी कमेंट करे और फ्री समाधान पाये

|| आयुर्वेद हमारे ऋषियों की प्राचीन धरोहर ॥

अलर्जी , दाद , खाज व खुजली का घरेलु इलाज और दवा बनाने की विधि हेतु विडियो देखे

Allergy , Ring Worm, Itching Home Remedy

Home Remedy for Allergy , Itching or Ring worm,

अलर्जी , दाद , खाज व खुजली का घरेलु इलाज और दवा बनाने की विधि हेतु विडियो देखे

Click on Below Given link to see video for Treatment of Diabetes

Allergy , Ring Worm, Itching Home Remedy

Home Remedy for Diabetes or Madhumeh or Sugar,

मधुमेह , डायबिटीज और sugar का घरेलु इलाज और दवा बनाने की विधि हेतु विडियो देखे