पुरुषों मे होने वाली यौन समस्या का समाधान ,Purushon Mein Hone Vali Youn Samsya Ka Smadhan |

पुरुषों की यौन की समस्या :- सेक्स किर्या करते समय व्यक्ति को नशे वाली पदार्थों का सेवन नही करना चाहिए |” इसके साथ ही साथ अपने दिमाक को तनाव से मुक्त रखें | तभी आप इस सुनहरे पल का आनन्द उठा सकते है |
Purushon Mein Hone Vali Youn Samsya Ka Smadhan
Purushon Mein Hone Vali Youn Samsya Ka Smadhan
आपने सुना होगा कि बहुत सी महिलाएं सेक्स संबधी समस्याओं का सामना करती है | लेकिन यह समस्या केवल महिलाओं की ही नही बल्कि पुरूषों  की भी होती है | जब कोई भी पुरुष तंव युक्त वातावरण में रहता है तो उसके कारण यौन समस्याएँ उत्पन्न हो जाती है | इसके लिए आप विटामिन b के स्त्रोतों का सेवन अधिक से  अधिक करें और इस समस्या से छुटकारा पा सकते है | इस समस्या से किस प्रकार से निपटना है | इसके बारे में बाद में बात करेंगे | इससे पहले बात करते है पुरुषों में होने वाली सेक्स प्रॉब्लम के बारे में |
अगर पुरुषों की सेक्स समस्या की बात आती है | तो हमारा ध्यान सीधा उन लोगों पर जाता है | जो सेक्स करने के इच्छुक नही है | या जो चाह कर भी सेक्स नही करते है | सेक्स करने की क्षमता में कमी पुरुषों की आम समस्या बनकर रह गई है | इसका मुख्य कारण है | सेक्स हार्मोन टेस्टोंस्टेरोंन की कमी | जब पुरुष की उम्र लगभग 40 साल की या इससे उपर की हो जाती है तो उसके खून में हार्मोन टेस्टोंस्टेरोंन की मात्रा कम हो जाती है | यह एक साधारण सी बात है | क्योंकि शरीर में हार्मोन की कमी उम्र के साथ होती है | परन्तु कुछ लोगों मे यह समस्या जल्दी आने लगती है | इसके आलावा यह समस्या डाइबिटीज या अन्य किसी के तनाव के कारण से भी हो सकती है | हार्मोन टेस्टोंस्टेरोंन की कमी आने से शरीर में थकान , दिमाक में परिवर्तन होना , अन्निन्द्र के साथ – साथ सेक्स करने की इच्छा में भी कमी आ जाती है | इस सभी समस्याओं से सबसे आम समस्या पुरुषों के शीघ्रपतन की आती है | जब कोई पुरुष सेक्स करता है या सम्भोग किर्या के दौरान व्यक्ति का जल्द ही शीघ्रपतन हो जाता है | जिसके कारण व्यक्ति की उत्तेजना भी मंद पड़ जाती है | फिर चाहे उसके पार्टनर की कामोत्तेजना शांत ही नही हो | अधिकतर लोगों में सेक्स करने की इच्छा खत्म होने के मुख्य कारण हमारी लिंग की मास –पेशियों का कमजोर पड़ना है | यह समस्या ज्यातर तब होती है जब हमारे शरीर में विटामिन b की कमी होती है | इसके आलावा हमारी बुरी आदतें और गलत जीवन जीने के तरीके से भी यह समस्या उत्पन्न होती है | कई बार लोग जब बहुत अधिक तनाव में रहते है तो इससे सेक्स से जुडी हुई समस्या हो जाती है | क्योंकि तनाव से जुड़ा हुआ पुरुष और अधिक से अधिक बिजी रहने वाला पुरुष अपने सेक्स जीवन में उदासीन हो जाता है | पुरुषों के सेक्स पॉवर कम होने का कारण बीमारियाँ भी हो सकती है | जो लोग शराब , कोकीन , और ड्रग्स का इस्तेमाल करते है | वो लोग सेक्स के प्रति उदासीन रहते है | इसके आलावा पुरुषों के शरीर का वजन अधिक होने के कारण भी व्यक्ति विचिलत हो जाता है | हृदय के रोग , एनीमिया का रोग और मधुमेह के रोग जैसी बिमारियों के कारण भी सेक्स संबधी समस्याएँ उत्पन्न हो जाती है |
Youn Samsya Ke Hone Ka Karan
Youn Samsya Ke Hone Ka Karan
दुनिया में बहुत से लोग ऐसा सोचते है कि एक उम्र के बाद शरीर में सेक्स शक्ति की कमी आ जाती है | लेकिन आपका यह सोचना बिल्कुल गलत है | क्योंकि यदि पुरुष की चाहे कितनी भी आयु हो जब वह अपने स्वास्थ्य की देखभाल अच्छी तरह से करेगा तो वह सेक्स का उसी तरह से पूरा आनन्द उठा सकता है | जैसे कि कोई युवा पुरुष उठाता है | इसके आलावा जब आपके सेक्स करने की इच्छा कम हो जाये तो कभी भी दवाइयों का उपयोग ना करें | जब हमारे शरीर में अनेक रोगों का कुप्रभाव पड़ता है , मूत्रनली से जुडी हुई समस्या के कारण या मानसिक समस्या होने के कारण सेक्स समस्या हो सकती है |अपने कई बार देखा होगा कि कोई बड़ी उम्र का पुरुष सेक्स करने में अधिक दिल्चस्स्पी रखता है | उसकी सेक्स इच्छा अधिक तीव्र हो जाती है | इसका मुख्य कारण उसके शरीर में प्रोस्टेट ग्रन्थि का बढ़ाना | इस समस्या को दूर करने के लिए पुरुष अधिक से अधिक विटामिन b का सेवन करें और साथ ही साथ पौष्टिक आहार का भी सेवन करें और अपनी सेहत का अच्छी तरह से देखभाल करें |
हार्मोन्स से जुडी हुई बीमारियाँ :- अधिकतर हार्मोन से जुडी हुई बिमारियों से यौन इच्छा में कमी आ जाती है | इससे आपके जन्न अंगों ठीक प्रकार से विकसित नही होते या फिर यौन इच्छा में कमी आ जाती है | पीयूषग्रन्थी की बीमारियाँ , डायबिटीज और कुशिंग संलाक्ष्ण आदि बीमारी हमारी यौन इच्छा को कम कर देते है |
जनन अंगों का कम विकसित होना :- जब दोनों के वृष्ण छोटे आकार के होते है तो पुरुषों के हारमोंस के स्त्रावित होने में कमी आ जाती है | ऐसे लोगों के जनन अंग के पास , दाडी और मुछों पर कम बाल उगते है | लिंग ठीक प्रकार से तनाव नही होता है | या फिर सेक्स करने की इच्छा बिल्कुल नही होती | कभी – कभी वृषण के संक्रमण से भी नुकसान हो सकता है |
मुडा हुआ शिशन :- अब बात करते है व्यक्ति की अपनी इच्छा पर | जब किसी व्यक्ति की सम्भोग करने की इच्छा ही ना हो तो इसके लिए कोई उपाय नही किया जाता है | इसके लिए कोई नियम नही बनाया गया है |
Harmons Se Judi Hui Bimari
Harmons Se Judi Hui Bimari
सम्भोग का समय :- सेक्स करने का कम से कम समय 3 मिनट का और अधिक से अधिक समय 30 मिनट तक का होता है | आमतौर पर लगभग 5 मिनट में व्यक्ति का वीर्य निकल जाता है | बहुत से ऐसे पुरुष और महिलाएं है जो सेक्स करने के समय को लेकर असंतुष्ट है | वे चाहते है कि इस समय अवधि को और भी अधिक बढ़ा सके | तीन मिनट से भी कम समय स्त्री और पुरुष में असंतोष पैदा कर देता है | जब महिला एक बार उतेजित हो जाती है तो वह उच्च बिंदु के शिखर पर पंहुच जाती है | और यह बहुत कम चांस होते है कि तीन मिनट के अंदर वह शांत हो जाये |
पुरुष के लिंग में तनाव ना होना :- शिथिल अवस्था में पुरुष के लिंग का बढकर कड़ा हो जाना उद्दीपन कहलाता है | ऐसा इसलिए होता हा क्योंकि उनकी स्पंज जैसी थैलियों में खून भर जाता है | एक स्वस्थ पुरुष में लिंग के खड़े होने का कारण और उत्तेजना का स्त्रोत मानसिक होता है | तना हुआ लिंग आसानी से योनी में प्रवेश कर जाता है |
शिशन के स्त्राव और वीर्य :- यौनिक उत्तेजना से मूत्रमार्ग की ग्रन्थियो से एक गाढ़ा थूक जैसा पदार्थ निकलता है | जिससे लिंग का अंदर जाना आसान हो जाता है | कई बार पुरुष इस स्त्राव को वीर्य समझ लेते है | यह परेशानी और चिंता का एक कारण है | हम उन्हें ये बताना चाहते है कि ये कोई वीर्य नही होता | जब वीर्य का स्खलन होता है तो वह बहता है | इसे वो हस्तमैथुन के बाद देख सकते है | दोनों द्रव एक – दुसरे से भिन्न होते है | वीर्य गाढ़ा होता है | सफेद रंग का होता है | और अपारदर्शी होता है | वीर्य की मात्रा एक से दो मिलीलीटर होता है | यह एक साथ निकलता है | शिशन का स्त्राव लिंग के खड़े होने के साथ – साथ और स्खलन से पहले निकलता है | यह पारदर्शी , पतला और इसकी मात्रा भी कम होती है |
योनी का चिकना होना :- जैसे पुरुषों की लिंग से स्त्राव निकलता है ,वैसे ही महिला की योनी से भी स्त्राव निकलता है | जिससे महिला की योनी चिकनी होती है |  इसके आलावा जिनकी उम्र कम होती है | इससे भी फर्क पड़ता है | जब लडकी १२व से 13 साल की होती है और लड़का 15 से 16 साल का होता है | तो उनके संदर योन सक्रियता हो सकती है | महिलाएं और पुरुष बूढ़े होने तक यौनिक रूप में सक्रिय होते है | जब महिला मासिक धर्म से छुटकारा पा लेती है | यानि रजोनिवृति हो जाती है | और उनके गर्भाशय में अंडे बनना बंद हो जाते है तो भी वे यौनिक किर्या को जारी रख सकती है | कुछ महिलाएं ऐसी है जिनकी उम्र 50 साल की हो जाती है तो वह यौन किर्या करना छोड़ देती है | और बहुत सी ऐसी महिलाएं है जो नही छोडती | पुरुषों को बुढ़ापे तक शुक्राणु बनते रहते है | जब पुरुष की उम्र ७० साल की हो जाती है तो यौन रूप से सक्रिय हो जाते है | लेकिन उनमे कम ताकत और जोश होता है | कभी – कभी तो लिंग मुड़ा हुआ भी होता है | जिससे खड़ा करने में और योनी में जाने के लिए मुश्किल होता है | लेकिन इसे ओपरेशन करके ठीक किया जा सकता है |
Viry Ka Strav
Viry Ka Strav
  
गंभीर नीरुध्प्र्काश  :- गंभीर नीरुध्प्र्काश का अर्थ होता है कि लिंग का उपरी सिरा का छेद छोटा होना | बहुत से पुरुषों में गंभीर नीरुध्प्र्काश होता है | इसके कारण अपने आप सम्भोग नही रुकता | परन्तु जब शिशन का सिरा खड़े होने के बाद वापिस चला जाता है तो इससे सम्भोग के बाद की समस्या और दर्द होता है | इस तरह से पुरुष सम्भोग करने से डरता है | इस समस्या को हम ओपरेशन करके दूर करवा सकते है |  
छुत या अल्सर :- जब लिंग के पेशाब के रास्ते संक्रमण के कारण दर्द और शोथ के कारण होने से सम्भोग के समय दर्द होता है | दर्द करने वाले अल्सर जैसे मुलायम वर्ण में भी यौनिक सम्भोग रुक जाता है | इन सभी बिमारियों को प्रति रोगाणु की मदद से ठीक किया जा सकता है |
यौन इच्छाएं पर असर करने वाली दवाएँ :- उच्च रक्त चाप मिर्गी के रोगी , दिमागी बीमारी आदि के कारण भी यौन की इच्छा में भारी कमी आ जाती है | जिन लोगों को शराब की लत होती है , तो उनमे यौन की इच्छा की कमी आ जाती है |
लीवर की बीमारियाँ :- जब किसी व्यक्ति को लीवर की परेशानी होती है तो इससे उसके यौन से जुडी हुई समस्या उत्पन्न हो जाती है | उसके सामने लिंग का अच्छी तरह से खड़ा ना होना , उम्र का अधिक बढ़ना आदि कुछ समस्या आने लगती है | बहुत से पुरुष इस बात को पूर्ण रूप से स्वीकार नही कर पाते |
सेक्स करने की इच्छा :- जब कोई स्त्री या पुरुष जब एक दुसरे लीग के प्रति आकर्षित होते है | या महसूस करते है | तो उस समय सेक्स उनके लिए बहुत ही खास विषय हो जाता है | उनके मन में सेक्स के बारे में जानने की इच्छा बढ़ जाती है | कुछ लोग शादी से पहले सेक्स करने से पीछे नही हटते | क्योंकि सेक्स करने में जितना आनन्द मिलता है | उतनी ही संवेदनशील बनी रहती है | इसी कारण महिला या पुरुष दोनों एक दुसरे के प्रति सेक्स की भूख लगी रहती है | वह अधिक से अधिक सेक्स करने का आनन्द उठाना चाहता है | ऐसे ही दुनिया में बहुत से लोग है | जो सेक्स का मजा लेना चाहते है | परन्तु सेक्स करने के बाद ठंडे हो जाते है | ऐसे कुछ कारणों से उनके मन में एक बात घर कर जाती है कि उन्हें शीघ्रपतन का रोग लग गया है | ऐसे लोग शरीर से स्वस्थ होते है | लेकिन अपने दिमागी रूप से बीमार हो जाते है | उनके मन में विचार आने लगता है कि अगर वह सेक्स के समय यदि अपने पार्टनर को संतुष्ट नही कर पाया तो उसका पार्टनर उससे नफरत करने लगेगा | या उसे छोडकर चला जायेगा | यह केवल आपके दिमाक का फितूर है | और कुछ नही | यह एक दिमागी समस्या है | जिसके कारण आज दुनिया का हर व्यक्ति परेशान है | सेक्स करने के बाद जब पुरुष का वीर्य निकल जाता है | तभी वह व्यक्ति अपने आप को संतुष्ट मानता है | क्योंकि जब व्यक्ति अपनी सेक्स की इच्छा को लेकर चरम सीमा तक जाता है तो इसका संबध वीर्य से जुड़ा हुआ है | परन्तु इसके बाद भी बहुत से पुरुष की अंदर की प्यास नही बुझती | इसी कारण वह अंदर ही अंदर अपने आप को कोसता है और शर्मिदा महसूस करता है | यदि पुरुष सही तरीके से और सही तरह से सेक्स करता है | तो वह अपनी इच्छा को और भी बढ़ा सकता है | सेक्स पॉवर को बढ़ाने के लिए आप किसी दवा का उपयोग ना करें | या उलटे सीधे वैध्य हकीम के चक्कर में नही पड़ें | बस केवल कुछ विशेष बातों का ध्यान रखें| जिनका वर्णन आज हम आपके सामने करने जा रहे है |
Shighrptan, Shishn Ka Skhlan
Shighrptan, Shishn Ka Skhlan
सेक्स करते समय कोई भी जल्दबाजी ना करें :-  जब भी आप सेक्स करें | तो आप किसी भी प्रकार की जल्दबाजी ना करें | इसके आलावा ना ही हडबडाहट करें | इसके कारण वीर्यपात हो सकता है | किसी भी पार्टनर के बीच में सेक्स करने का संबध केवल खाना पूर्ति करना ही नही होता | या फिर किसी जल्दी बाजी में सेक्स नही करना चाहिए | ऐसे बहुत से व्यक्ति होते है | जो सेक्स करते समय पुरे जोश में आ जाते है | उनकी उत्तेजना सेक्स करने से पहले चरम सीमा तक पंहुच जाती है | और जल्दी ही उनका वीर्यपात हो जाता है | ऐसे पुरुषों की पत्नियाँ अपने पति से परेशान रहती है | क्योंकि उनको भी अपने पति की ऐसी आदत से संतुष्टि नही मिलती | इसलिए जब भी आप सेक्स करें तो कभी भी जल्दीबाजी ना करें | इस किर्या को धैर्यं से करें | इससे ना सिर्फ पुरुष इस कार्य को लम्बी अवधि तक करता है | बल्कि स्त्रियाँ भी इस सुनहरे पल का मजा ले सकती है | इस उपाय को करने से स्त्री पूरी तरह से संतुष्ट हो जाती है |
उत्तेजना पर अधिक ध्यान दें :- यदि कोई पुरुष अपनी सम्भोग किर्या काफी देर तक करना चाहता है | तो उसे अपनी उत्तेजना पर अधिक ध्यान देने की आवश्यकता है | सेक्स करते समय उत्तेजना का बढ़ना और अधिक समय तक रहने से पुरुष की शारीरिक किर्याओं पर आधारित होता है | सेक्स के दौरान आपको जब भी यह महूसस हो कि आपकी उत्तेजना बढ़ रही है और लिंग सख्त होता जा रहा है | उसी समय अपनी शारीरिक किर्याएँ बंद कर देनी चाहिए | इससे आपकी बढ़ी हुई उत्तेजना कम होने लगती है | इसके आलावा जब आपकी उत्तेजना अधिक हो जाती है | तो वीर्य को निकलने को आप नही रोक सकते | इसलिए सेक्स को करते समय उत्तेजना पर अधिक ध्यान देना चाहिए |
वातावरण की और ध्यान दें
वातावरण की और ध्यान दें
वातावरण की और विशेष ध्यान दें :-जब भी सेक्स करने के लिए तैयर होते है | तो वातावरण की और विशेष ध्यान दें | सम्भोग किर्या में पूरी तरह से आनन्द और संतुष्टि उस समय तक बिल्कुल नही मिलती | जब तक बिना किसी डर के आराम से किया जाये | शादी के बाद सोने के लिए पति पत्नी के लिए अलग – अलग कमरे की व्यवस्था कर दी जाती है | फिर भी इस व्यवस्था में अचानक किसी तरह की रुकावट आ जाती है | तो ऐसे में सम्बन्ध नही बनाने चाहिए | कई बार ऐसा भी होता है कि पति और पत्नी कमरे में आकर सम्भोग किर्या करने लगते है | उस समय यदि कोई उन्हें आवाज देता है तो उस समय बनी हुई सेक्स उत्तेजना को अघात पंहुचता है | वह मानसिक रूप से डिस्ट्रप हो जाता है | और यही वीर्यपात का एक कारण भी बनता है | यदि कोई दम्पति अपने कमरे में आता है तो उसे तुरंत सेक्स करने की तैयारी नही करनी चाहिए | इसके लिए जब भी अप कमरे में जाते है तो उनसे कुछ – कुछ बाते करें | किसी भी टॉपिक को लेकर बात कर सकते है | पर जब भी आपको ऐसा लगे कि घर के सभी सदस्य सो गये है | उस समय आपको सेक्स करने की तैयारी करनी चाहिए | सेक्स का अधिक मजा लेने के लिए घर में हरे रंग के या आसमानी रंग के बल्बों का उपयोग करें | ऐसा करने से सम्भोग किर्या में अधिक आनन्द मिलता है |
VIBHINN ASAANO KA PRYOG HAI HANIKARK
VIBHINN ASAANO KA PRYOG HAI HANIKARK 
सेक्स करते समय विभिन्न आसनों का प्रयोग करना हानिकारक होता है :- दुनिया में बहुत से लोग ऐसे है | जो अपनी पत्नियों को अलग – अलग आसनों की प्रयोगशाला बना देते है | क्योंकि ये सभी पुरुष कुछ ऐसी किताबे और फिल्मे देखते है | जिसमे अलग – अलग तरीके से सेक्स किया जाता है | और वे चाहते है कि उनकी पत्नियाँ भी उनके साथ वैसे ही सेक्स करें | जो की बिल्कुल गलत है | जो फिल्मों में दिखाया जाता है | उन्हें करना मुश्किल ही नही नामुमकिन होता है | अलग – अलग आसन बनाते समय पुरुष इस कदर इसमें कहो जाता है कि उसका वीर्य निकल जाये | इसके बारे में कुछ कह नही सकते | इसके आलावा पत्नी भी यह महसूस करती है कि उसका पति उसे एक खिलौने की तरह प्रयोग कर रहा है |इसके कारण वह शरीरिक रूप से और दिमागी रूप से दुखी हो जाती है | वैसे भी सेक्स का जितना आनन्द साधारण रूप से मिलता है | उतना विभिन्न प्रकार के आसनों में नही मिलता |कुछ विद्वानों का यह मनाना है कि सामान्य आसनों के प्रयोग से आप सेक्स संबधों का मजा ले सकते है| उन्हें भूलकर भी अलग – अलग आसनों का प्रयोग नही करना चाहिए | इसके लिए सबसे अच्छा आसन यह है कि जब भी आप सम्भोग किर्या करते समय पत्नी नीचे और और पति ऊपर होना चाहिए | इस आसन के प्रयोग से पुरुष का तना हुआ लिंग आसानी से महिला की योनी में चला जाता है | यदि कोई पुरुष सम्भोग के समय स्त्री के चेहरे के भावों को पढ़ सकता है | विराम के समय स्त्री के शरीर पर निश्चल लेटने से एक अद्भुत सुख मिलता है | इसके बाद सिर्फ विपरीत वाले आसन का प्रयोग करना उचित माना गया है | इस आसन में पति नीचे लेटता है और पत्नी उसके उपर लेटती है | इन सभी असानों का प्रयोग करके आप लम्बे समय तक सम्भोग किर्या कर सकते है | लियह सम्भोग किर्या बिना किसी परेशानी के चलती रहती है | और किसी दुसरे आसन में यह सुविधा नही होती | जो दुसरे वाला आसन है उसमे लिंग आसानी से योनी के अंदर प्रवेश नही करती | जितनी आसानी से पहले वाले आसन में प्रवेश होता है | कई बार जब पुरुष का लिंग योनी में प्रवेश होता है | तो पुरुष की उत्तेजना इतनी बढ़ जाती है | कि योनी में प्रवेश करते के साथ पुरुष का वीर्य निकल जाता है | इसके लिए सबसे अच्छा उपाय यह है कि जो व्यक्ति शीघ्रपतन जैसी समस्या से ग्रस्त है | उन्हें पहले वाले आसन का ही प्रयोग करना चाहिए |
अपने आप को काबू में रखें
अपने आप को काबू में रखें
सम्भोग किर्या में अपने आप को काबू में रखें :- सयम और सेक्स का एक दुसरे के साथ गहरा सम्बन्ध होता है | बिना सयंम केसम्भोग किर्या नही चल सकती | वैसे भी कहते है कि सयंम ही सेक्स की धुरी है और सयंम हर काम को करने के लिए भी जरूरी है | हमारी युवा पीढ़ी को सयंम रखने की अधिक आवश्यकता होती है | बहुत से व्यक्ति जब ये देखते है कि घर में कोई नही है | तो तुरंत ही मौके का फायदा उठाकर अपनी पत्नी के साथ संबध बनाना चाहते है | और जल्द से जल्द सेक्स करने लगता है | पत्नी भी इस बात का विरोध नही करती |इस प्रकार संम्बध बनाते समय पुरुष की उत्तेजना जरूरत से अधिक हो जाती है | इसके बाद उसे किसी के आने का कोई डर नही होता | वह अपने पार्टनर को जल्दी – जल्दी करने के लिए मजबूर कर देता है |ऐसी परिस्थिति में पुरुष का समय के साथ सयंम पूरा टूट जाता है | और साथ ही साथ उस पुरुष का वीर्य भी जल्दी ही निकल जाता है | इसके आलावा और भी कई मौके आते है | जब पति अपनी पत्नी के साथ संबध बनाने से पीछे नही हटता | इसके कारण व्यक्ति शीघ्र स्खलन का शिकार हो जाता है | ऐसे में मजे के चक्कर में अपने आपको शीघ्र स्खलन का रोगी बना देते है | यदि आप इस परिस्थिति को संभाल नही पाते तो सेक्स केवल नाम के लिए ही रह जाता है | ऐसे में स्त्री को संतुष्टि केवल नाम की मिलती है | इसलिए सेक्स करते समय सयंम की बहुत ही जरूरत होती है |
सांसों पर सयंम रखें :- जब भी आप सेक्स करते है | तो अपने सांसों की गति को सयंमित रखें | इससे आपकी बढ़ती हुई उत्तेजना कम हो जाती है | उत्तेजना के बढ़ने पर जब आपको यह महसूस हो कि आपके ना चाहने पर भी आपका वीर्य निकल रहा है | तो उसी समय अपनी शरीरिक गतिविधियों को बंद कर देना चाहियें | अपने शरीर को ढीला छोड़ दें | और आँखों को बंद करके एक लम्बी साँस लें | साँस को एकदम से बाहर नही छोड़ना चाहिए | जितना समय अपने साँस लेने में लिया था | उतने से दुगना समय आप साँस को छोड़ने में लगायें | जब साँस को छोड़ते है तो कुछ देर तक रुके | ऐसा दो या तीन बार करें | इससे आपकी बढ़ी हुई उतेजना शांत हो जाती है | इस उपाय को जो भी कोई अपनाता है | तो वह अपने सेक्स के समय में बढ़ोतरी कर सकता है और इस सुनहरे पल का लुफ्त उठा सकता है |
प्राक – क्रीडा को लम्बा ना खिचे :- प्राकतिक ने महिला के शरीर को इस प्रकार से बनाया है कि उसे देखेने के साथ ही पुरुष की उत्तेजना बढ़ जाती है | यदि कोई व्यक्ति शादी होने से पहले किसी लडकी से संबध बनता है | तो महिला के शरीर को छूने पर या उसे निहारने पर उसके मन में के लालसा उत्पन्न हो जाती है | ऐसी परिस्थिति केवल पुरुषों में ही नही बल्कि स्त्रियों मे भी होती है | जिस तरह से कोई पुरुष किसी महिला को देखकर उसे किस करता है या गले लगाता है तो महिला की उत्सुकता बढ़ जाती है | इसी को प्राक क्रीडा कहते है | लेकिन इस परिस्थिति में कई महिलाएं ऐसी है जो उतेजित नही होती | जितना कि पुरुष हो जाता है | स्त्री के शरीर से छेडछाड करने से या स्त्री के गुप्त अंगों को छूने से महिला की उत्तेजना बढती है और साथ ही साथ पुरुष की भी कमोतेजना इतनी बढ़ जाती है कि वह स्त्री के साथ सम्भोग करने के लिए उसे तैयार करता है | इससे पहले की कोई स्त्री सेक्स करने के लिए तैयार होती है | कि उत्तेजनापूर्ण व्यक्ति का वीर्यपात हो जाता है और वह शांत हो जाता है | जिसके कारण महिला अपनी सम्भोग की इच्छा को अपने मन में दबाकर रखती है |  इसलिए इस बात का ध्यान रखे कि शरीरिक उत्तेजना को अधिक समय तक ना खिचे | प्राक क्रीडा सेक्स करने की सबसे पहली सीढि होती है | लेकिन इस प्राक क्रीडा के चक्कर में अपनी सारी उर्जा को व्यर्थ ना करें | इस बारे में एक बात का और ध्यान दें | की जब पुरुष को स्त्री के गुप्त अंगों को उत्तेजित नही करना चाहिए | क्योंकि सम्भोग करने के लिए स्त्री बहुत ही देरी से तैयार होती है |  जबकि पुरुष स्त्री से जल्दी ही उत्तेजित हो जाता है | सेक्स के दौरान लिंग मुंड की एक अहम भूमिका होती है | यह स्किन के लिए  संवेदनशील होती है | जब कोई स्त्री पुरुष के लिंग को छूती है | तो सम्भोग से पहले ही व्यक्ति उतेजित हो जाता है | उसकी उतेजना चरम सीमा तक पंहुच जाती है | और जब पुरुष सम्बोग करने के लिए जाता है तो वह उस समय तक ढेर हो जाता है | जिन लोगों की उतेजना बड़ी ही तेज़ी से बढती है तो उन्हें छेडछाड से बचना चाहिए | अगर पुरुष इस बात का ध्यान रखें तो वह सेक्स के समय को बढ़ा सकता है | कुछ विद्वानों का यह मानना है कि जिस व्यक्ति की कमोतेजना कमजोर होती है | उन्हें प्राक क्रीडा से बचना चाहिए | लेकिन ऐसा करने से महिला को सेक्स करने के लिए तैयार करने में बड़ी ही कठनाई होती है | इसलिए ऐसे व्यक्तियों को प्राक क्रीडा के समय अपने सारे कपड़े नही उतराने चाहिए | इसके स्थान पर कुछ समय के लिए स्त्री के अंगों  की छेडछाड से काम चलाया जा सकता है | जब आप सेक्स करने के लिए जाते है तो उस समय अपने कपड़े उतारें | यदि अपने शुरू में ही सारे कपड़े उतार दिए तो लिंग के रगड़ लगने के साथ स्त्री का शरीर संवेदनशील हो जाता है | और वह उतेजित हो जाती है | जिसके कारण जल्दी ही वीर्यपात हो जाता है| जिस कमरे में आप सेक्स करते है | उस कमरे में हल्की रौशनी होनी चाहिए |इसके आलावा सम्भोग क्रिया के दौरान किसी भी प्रकार की गन्दी बाते ना करें |
NSHILE PDARTHON KA SEVN NAA KREN
NSHILE PDARTHON KA SEVN NAA KREN 

सम्भोग किर्या के दौरान कभी भी नशीले पदार्थ का सेवन ना करें | कुछ लोग ये सोचते है कि नशा करने से सम्भोग किर्या अधिक देरी से आनन्दमय होती है | उनका यह सोचना बिल्कुल गलत है | इससे बस थोड़ी देर के लिए उतेजना पैदा होती है | लेकिन बाद में नशा करने व्सलों की कमोतेजना धीरे – धीरे कम हो जाती है | और उनकी उर्जा समय से पहले ही खत्म हो जाती है | इसके आलावा जो व्यक्ति नशे का सेवन करता है | वह अच्छे बुरे की पहचान करने की क्षमता कहो देता है | जिससे पति और पत्नी के बीच मे दुरी आने लगती  है | अपने रिश्ते को मजबूत बनाने के लिए आप कभी भी शराब का सेवन ना करें |  इसके आलावा जब कोई पुरुष किसी महिला के साथ संबध स्थापित करता है तो उसे तनाव से मुक्त रहना चाहिए | क्योंकि तनाव हमारे जीवन का एक ऐसा हिस्सा है | जो निकाले से भी नही निकलता | इसके बाद हम बात करते है | चिकत्सा की | जैसे सेक्स को बढ़ाने के लिए उपाय या वीर्य का जल्दी निकलना आदि कुछ समस्याओं के उपाय इस प्रकार से है |
SFED PYAJ KE RS KA UPYOG KREN
SFED PYAJ KE RS KA UPYOG KREN 
सफेद प्याज को पीसकर उसका रस निकाल लें | इसमें थोडा सा शहद , दो अंडे की जर्दी और लगभग 25 मिलीलीटर शराब को आपस में मिलाकर के मिश्रण बनाएं | इस तरह से मिश्रण को शाम के समय पीयें | इस तरह के उपचार को करने से सम्भोग शक्ति तेज़ हो जाती है |
बादाम की गिरी   :- 5
काली मिर्च   :- 7
पिसा हुआ सौंठ  :- 2 ग्राम
मिश्री   :- अपनी आवश्यकता के अनुसार
इन सभी सामग्रियों को आपस में मिलाकर बारीक़ पीस लें | इस तैयार मिश्रण की थोड़ी सी मात्रा को खाएं और उपर से दूध पीयें | इस उपाय को लगतार कुछ दिनों तक करें | इससे जब भी आप सेक्स करेंगे तो आपका वीर्य जल्दी नही निकलेगा | और इस समस्या से छुटकारा मिल जायेगा | उड़द की दाल को पानी में कुछ समय के लिए भिगाकर रखें | इसके बाद दाल को पीसकर पेस्ट बना लें | इस पीसी हुई दाल को कडाही में घी डालकर भूरा होने तक भुने | इसके बाद इसमें गर्म दूध मिलाकर खीर बना लें | जब खीर बन जाये तो इसमें अपनी इच्छा के अनुसार चीनी या मिश्री मिला दें | इस तैयार खीर को खाने से सम्भोग की शक्ति बढ़ जाती है | इस उपाय को नियमित रूप से लगभग एक से डेढ़ महीने तक करें | आपको अवश्य ही लाभ प्राप्त होगा |
उड़द की दाल के लड्डू बनाकर खाने से सभी तरह से धातु रोग दूर हो जाते है | और साथ ही साथ सम्भोग करने की शक्ति मिलती है और वीर्य गाढ़ा होता है |इसके आलावा उड़द की दाल को पीसकर उसे घी में अच्छी तरह से भूनकर उसका हलुआ बनाएं | इसे खाने से भी लाभ मिलता है | 


पुरुषों मे होने वाली यौन समस्या का समाधान ,Purushon Mein Hone Vali Youn Samsya Ka Smadhan | Youn Samsya Ke Hone Ka Karan ,Sex Problem , Harmons Se Judi Hui Bimari , Viry Ka Strav , Shighrptan , Shishn Ka Skhlan ,Muda Hua Shihsn ,Purush Ki Sex Problem Ko Kren Dur |  

No comments:

Post a Comment


http://ayurvedhome.blogspot.in/2015/09/pet-ke-keede-ka-ilaj-in-hindi.html







http://ayurvedhome.blogspot.in/2015/08/manicure-at-home-in-hindi.html




http://ayurvedhome.blogspot.in/2015/11/importance-of-sex-education-in-family.html



http://ayurvedhome.blogspot.in/2015/10/how-to-impress-boy-in-hindi.html


http://ayurvedhome.blogspot.in/2015/10/how-to-impress-girl-in-hindi.html


http://ayurvedhome.blogspot.in/2015/10/joint-pain-ka-ilaj_14.html





http://ayurvedhome.blogspot.in/2015/09/jhaai-or-pigmentation.html



अपनी बीमारी का फ्री समाधान पाने के लिए और आचार्य जी से बात करने के लिए सीधे कमेंट करे ।

अपनी बीमारी कमेंट करे और फ्री समाधान पाये

|| आयुर्वेद हमारे ऋषियों की प्राचीन धरोहर ॥

अलर्जी , दाद , खाज व खुजली का घरेलु इलाज और दवा बनाने की विधि हेतु विडियो देखे

Allergy , Ring Worm, Itching Home Remedy

Home Remedy for Allergy , Itching or Ring worm,

अलर्जी , दाद , खाज व खुजली का घरेलु इलाज और दवा बनाने की विधि हेतु विडियो देखे

Click on Below Given link to see video for Treatment of Diabetes

Allergy , Ring Worm, Itching Home Remedy

Home Remedy for Diabetes or Madhumeh or Sugar,

मधुमेह , डायबिटीज और sugar का घरेलु इलाज और दवा बनाने की विधि हेतु विडियो देखे